मंगलवार, अक्तूबर 01, 2013

लिंग के छोटे आकार से बीवी खुश नही है



लिंग का छोटा व पतला होना

सर मेरी समस्या आपके लिये शायद छोटी हो सकती है लेकिन मेरे लिये बड़ी मुसीबत है। मेरा कद पाँच फुट सात इंच है और मैं देखने में स्वस्थ दिखता हूँ। सचमुच मुझे कोई बीमारी नहीं है लेकिन मेरी शादी के बाद से मुझे पता चला कि मेरे लिंग का आकार इतना बड़ा और मोटा नहीं है कि मैं अपनी पत्नी को संतुष्ट कर सकूं। मेरी पत्नी ने मुझसे सीधे सीधे तो कुछ नहीं कहा लेकिन फिर भी दबी जबान में कह ही दिया कि आप तो बच्चे जैसे हैं पहले मैं इस बात का अर्थ नहीं समझ सका लेकिन दो माह गुजरने के बाद उसने बता ही दिया कि वो मुझे बच्चे जैसा क्यों कहती है। अब आप ही बताइये कि मैं क्या करूं क्योंकि शादी से पहले मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि ऐसा भी हो सकता है क्योंकि मैं अपने व्यापार आदि में काफ़ी व्यस्त रहा इन सब बातों के लिये समय ही नहीं रहा लेकिन अब आप बताएं कि मैं खुद को पत्नी के सामने कैसे पेश कर पाउंगा मुझे शर्म आती है और वो भी मन मार कर मेरी इच्छा रख लेती है। फ़िलहाल वह एक माह के लिये मायके में है।

सुमित जैन, भायंदर
                                                

सुमित जी आपकी समस्या छोटी है ये कहना सही न होगा। आपने काफ़ी लम्बा पत्र लिखा है जिसमें यही समस्या है कि आपके लिंग का आकार आपकी पत्नी के लिये संतुष्टिकारक नहीं है जैसा कि आपने शिथिल व उत्तेजित स्थिति का आकार भी पत्र में बताया है। आपने लिखा है कि समय आदि सब ठीक है तो मैं आपको औषधि बताता हूं आप उसे प्रयोग करें आशा है कि आपको पर्याप्त लाभ होगा-

रस सिन्दूर २५ मिग्रा.+ मुक्ताशुक्ति भस्म २५ मिग्रा. + जावित्री १० मिग्रा. + स्वर्ण बंग २५ मिग्रा. + कुक्कुटाण्डत्वक भस्म २५ मिग्रा. + अश्वगंधा ५० मिग्रा. + शिलाजीत २५ मिग्रा. + शुद्ध विजया २५ मिग्रा. + गोखरू ५० मिग्रा. + शुद्ध हिंगुल २५ मिग्रा. + बबूल गोंद २५ मिग्रा. + विधारा ५० मिग्रा. + दालचीनी २५ मिग्रा. + कौंच बीज २५ मिग्रा. + तालमखाना २५ मिग्रा. + सफ़ेद मूसली २५ मिग्रा. + जायफल १० मिग्रा. + शतावर ५० मिग्रा. + लौंग १० मिग्रा. + बीजबन्द ५० मिग्रा. + सालम मिश्री ५० मिग्रा.

इन सभी की एक खुराक बनेगी आप इसी अनुपात में औषधियाँ मिला कर अपनी जरूरत के अनुसार दवा बना लें व सुबह नाश्ते तथा रात्रि भोजन के बाद एक एक खुराक मीठे दूध से लीजिये।

दूसरी दवा लिंग पर लगाने के लिये है इससे आपको कोई नुक्सान नहीं होगा इसलिए परेशान न हों।

अश्वगंधा तेल १० ग्राम + मालकांगनी तेल १० ग्राम + श्रीगोपाल तेल १० ग्राम + लौंग का तेल २ ग्राम + निर्गुण्डी का तेल १० ग्राम इन सब को मिला कर इसमें केशर १ ग्राम + जायफल २ ग्राम + दालचीनी २ ग्राम । इन सबको कस कर घुटाई कर लें तो क्रीम की तरह बन जाएगा। इसे किसी मजबूत ढक्कन की काँच या प्लास्टिक की चौड़े मुँह की शीशी में रख लीजिये। इसे नहाने के बाद अंग सुखा कर भली प्रकार हल्के हाथ से मालिश करते हुए अंग में जाने दें। लगभग दस मिनट में यह क्रीम लिंग में अवशोषित हो जाएगी। इस प्रकार यदि दिन में समय मिले तो दो बार क्रीम लगाएं।

ध्यान दीजिये कि औषधि प्रयोग काल में सम्भोग या हस्तमैथुन न करें।

यदि आप लगभग तीन माह तक इस प्रयोग को करें तो स्थायी लाभ होगा।

 यदि कोई भी शंका या परेशानी हो तो आप सीधे मुझसे ई-मेल (aayushved@gmail.com) या मोबाइल नंबर 09224359159 पर संपर्क करें। जीवन में मन की शक्तियों का इस्तेमाल हमें जरूर करना चाहिये कैसे ? जानने के लिये देखिये मेरी लिखी दूसरी वेबसाईट बस इस लिंक पर click करें । www.mindhypnotism.com
आप मुझे अपनी समस्यायें what`s app के मेरे नम्बर 09833953289 पर भी भेज सकते हैं 

0 आप लोग बोले: